Bolly

रिया चक्रवर्ती को लेकर बॉलीवुड सेलेब्स ने मीडिया को लिखा ओपन लेटर

सुशांत सिंह राजपूत केस में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के द्वारा पूछताछ के बाद रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया गया है। रिया के गिरफ्तारी के बाद से चुप बैठे बॉलीवुड सेलेब्स अब अचानक से रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के समर्थन में उतर गए।

Advertisement

बॉलीवुड के कई सेलेब्स ने मीडिया के नाम एक ओपन लेटर पर साइन करके, सुशांत मामले में चल रही जांच को लेकर मीडिया द्वारा रिया के लिए किए जा रहे बर्ताव पर आपत्ति जताई है। दरअसल, फेमिनिस्ट वॉयस ( Feminist Voices) नामक एक ब्लॉग पर प्रकाशित किया गया है। जिसपर लगभग 2500 अन्य लोगों ने लेटर पर हस्ताक्षर किए हैं।

इस लेटर में सोनम कपूर, फरहान अख्तर, जोया अख्तर, अनुराग कश्यप आदि कई सेलेब्स के नाम शामिल हैं। इनके अलावा पत्र में फ्रीडा पिंटो, अलंकृता श्रीवास्तव, गौरी शिन्दे, रीमा कागती, रुचि नारायण, रसिका दुग्गल, अमृता सुभाष, मिनी माथुर, दीया मिर्जा और अन्य कई हस्तियों ने भी इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

प्रिय समाचार भारत का मीडिया

हम, आपकी चिंता कर रहे हैं, क्या आप ठीक महसूस कर रहे हैं?

क्योंकि, जब हम मीडिया को रिया चक्रवर्ती के पीछे पड़े देखते हैं तो हम समझ नहीं पाते हैं कि आपने पत्रकारिता के हर पेशेवर नैतिकता को क्यों त्याग दिया है। आप एक महिला की मानवीय शीलनता और गरिमा को बनाए रखने के बजाए कैमरे लेकर उस पर हमला करने में लगे हैंष आप उसकी निजता का उल्लंघन कर रहे हैं और झूठे आरोपों पर दिन-रात काम कर रहे हैंष ‘रिया को फंसाओं’ ड्रामा चल रहा है।

आपको केवल एक कहानी बनाने का जुनून सवार हो गया है। एक युवा महिला जो अपने फैसले खुद करती है, जो बिना शादी के अपने प्रेमी के साथ रहती है और जो खुद को संकट में काम करने वाले की तरह अभिनय करने के बजाय खुद के लिए बोलती है। बिना जांच के, कानून की प्रक्रिया के बिना उसे अपराधी मान लिया जाता है।

हमने सलमान खान और संजय दत्त के मामले में आपका दयालु और सम्मानजनक रुख देखा है, लेकिन जब बात एक महिला की आती है, जिसने कोई अपराध किया है यह अभी साबित भी नहीं हुआ है, आप उसके चरित्र पर बार-बार हमला कर रहे हैं। उस पर और उसके परिवार पर निशाना साधने के लिए सोशल मीडिया पर लोगों को उकसा रहे हैं और उसकी गिरफ्तारी को अपनी जीत बता रहे हैं. क्या जीत है इसमें?

पत्र में कहा गया है कि हम देख रहे हैं कि आप रिया चक्रवर्ती के पीछे पड़े हो, हमें समझ नहीं आ रहा कि आपने पत्रकारिता के प्रत्येक पेशेवर मूल्य को क्यों त्याग दिया है।

Have your say