Bhojpuri

Kajal Raghwani, Khesarilal Yadav and Pawan Singh-Filmynism

खेसारीलाल यादव व काजल राघवानी में कट्टी, काजल ने कहा-पवन सिंह के कारण ही मैं सक्सेस

भोजपुरी सिने इंडस्ट्री (Bhojpuri Film Industry) में फिल्म स्टार की ऑन स्क्रीन जोड़ियां बाॅलीवुड की तरह की चलन में रहती हैं। एक जमाने में पवन सिंह (Pawan Singh) और अक्षरा सिंह (Akshara Singh) की जोड़ी धमाल मचाए हुई थी और अब काजल राघवानी (Kajal Raghwani) और खेसारीलाल यादव (Khesarilal Yadav) की जोड़ी हिट बनी हुई है। पर, अक्षरा व पवन की जोड़ी टूटने के बाद अब काजल व खेसारी की जोड़ी को भी बुरी नजर लग गई है। काजल राघवानी ने कहा कि उनके स्टारडम में खेसारीलाल यादव का नहीं, बल्कि पवन सिंह का योगदान ज्यादा है। ऐसे में लोगों को मानना है कि 9 अप्रैल को रिलीज हो रही भोजपुरी फिल्म ‘लिट्टी चोखा’ (Litti Chokha) दोनों की आखरी फिल्म होगी।

Advertisement

भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्टार खेसारीलाल यादव (Khesarilal Yadav) और काजल राघवानी (Kajal Raghwani) की जोड़ी दर्शकों के बीच इन दिनों बहुत हिट है। फिल्मी पर्दे पर हो या रियल लाइफ में, इनके फैंस दोनों को साथ देखना खूब पसंद करते हैं। पर, इन दिनों कुछ ठीक नहीं चल रहा है। दरअसल, एक इंटरव्यू में काजल राघवानी ने साफ कह दिया कि उनके स्टारडम में खेसारीलाल यादव का नहीं, बल्कि पवन सिंह का योगदान ज्यादा है। ऐसे में भोजपुरी जगत में अब यह अलग हंगामा खड़ हो गया है कि आगामी 9 अप्रैल को रिलीज होने वाली भोजपुरी फिल्म ‘लिट्टी चोखा’ दोनों की आखरी फिल्म साबित होने वाली है। अगर ऐसा हुआ तो सच में भोजपुरी सिनेमा की वर्तमान की हिट जोड़ी टूट जाएगी।

एक इंटरव्यू में काजल राघवानी ने साफ कह दिया कि उनके स्टारडम में खेसारीलाल यादव का नहीं, बल्कि पवन सिंह का योगदान ज्यादा है।

अभिनेत्री काजल राघवानी (Actress Kajal Raghwani) ने कहा कि आज मैं जिस मुकाम पर हूँ, वो मैंने कड़ी मेहनत से हासिल किया है। मुझे खेसारीलाल यादव या किसी अन्य कलाकार के साथ काम करने में कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन खेसारीलाल यादव हर जगह मुझे बदनाम कर रहे हैं कि मैंने उन्हें धोखा दिया है। जबकि, ऐसा कुछ नहीं है। मुझे गलत तरीके से प्रजेंट किया जा रहा है। काजल ने कहा कि मैं गुजराती हूं, शायद इसी वजह से मुझे टारगेट किया जा रहा है।

बता दें कि काजल राघवानी (Kajal Raghwani) इन दिनों भोजपुरी सिने इंडस्ट्री की सबसे सफल एक्ट्रेस में शुमार हैं। काजल का कहना है कि ‘मेरे स्टारडम में खेसारीलाल यादव का कोई भी योगदान नहीं है। मेरे कॅरियर में पवन सिंह का योगदान काफी ज्यादा है। गाना ‘छलकत हमरो जवनिया’ (Chhalakata Hamro Jawaniya) में मेरे और पवन सिंह के रोमांस को पब्लिक ने खूब पसंद किया था। आज भी यह गाना भोजपुरी में सबसे सुना जाने वाला गाना है। ऐसा नहीं है कि मैं खेसारी और पवन सिंह के बीच किसी एक को चूज कर रही हूं, लेकिन सच यही है। मैं हमेशा ही अपने काम को महत्व देती हूं और यही सच्चाई है, पर लोग किसी के बारे में कुछ भी बोलने लगते हैं, जो मुझे सही नहीं लगता है।

सोशल मीडिया पर मिल रही गालियों से दुखी काजल राघवानी (Kajal Raghwani) का कहना है कि मैंने अपने करियर में कभी भी किसी के बारे में गलत नहीं बोला है। मैंने खेसारीलाल पर किसी तरह के आरोप नहीं लगाए और नहीं कहा कि उन्होंने मुझे धोखा दिया, फिर भी खेसारी लाल मेरे बारे में बहुत कुछ बोल रहे हैं, जो गलत है। मुझे लाइव आकर रोने की आदत भी नहीं है। मेरे लिए संस्कार और काम सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट है। मैं सुलझी हूं और समझदार भी हूं। हमें भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री को आगे ले जाने के लिए काम करना और सोचना है। आज के माहौल से दुखी काजल राघवानी कहती हैं कि मेरे बारे में भी लोगों को सोचना चाहिए। इस तरह से एक लड़की को परेशान करना कहां तक जायज है।

Have your say