Interviews

इस पेशे में बहुत अधिक अनिश्चितता है : गुलशन देवैह

अभिनेता गुलशन देवैया ने पर्दे पर अपने विभिन्न प्रदर्शनों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। गुलशन का अभिनय के मामले में कोई तोड़ नहीं है। वहीँ गुलशन अपने सादा स्वभाव के लिए भी जाने जाते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एक्‍टर गुलशन का उनकी पत्‍नी कैलिरोई तजीएफ्टा (Kallirroi Tziafeta) के साथ तलाक (Divorce) हो गया है। बता दें, दोनों कपल्‍स ने यह फैसला शादी के एक दो साल बाद नहीं बल्‍कि अपनी शादीशुदा जिंदगी के 8 साल एक साथ बिताने के बाद लिया। इतना ही नहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों ने आपसी सहमति से तलाक लिया।

Advertisement

तलाक के बारे में बात करते हुए, गुलशन कहते हैं, “व्यक्तिगत स्तर पर, मैं 2020 को हर किसी के लिए बहुत कठिन वर्ष देखता हूं। खासकर, मेरे लिए, जैसा कि मेरा तलाक हो गया। लेकिन, यह सबसे अच्छा फैसला था और यह वास्तव में हम दोनों के लिए अच्छा था।”

अपनी गुलशन और कैलिरोई साल 2012 में बेंगलुरु में एक निजी शादी समारोह में शादी के बंधन में बंधे थे। इस शादी में केवल दोस्तों और परिवार के सदस्यों की उपस्थिति थी। उन्होंने दो साल की डेटिंग के बाद शादी कर ली। ग्रीक एक्ट्रेस कैलिरोई भारत यात्रा पर आई थी और इस दौरान गुलशन से मुलाकात हुई और जल्द ही मुंबई शिफ्ट हो गई। कोरोनोवायरस महामारी और उसके बाद के लॉकडाउन के कारण पिछले कुछ महीनों में बहुत कुछ हुआ है। इस अवधि के दौरान न केवल बॉलीवुड ने कई रत्नों को खो दिया, बल्कि इसने शोबिज के अप्रत्याशित स्वरूप को भी उजागर किया।

गुलशन कहते हैं, “कुछ चीजें जो मुझे प्रभावित करती हैं जैसे कि इरफान खान का नुकसान बहुत ही व्यक्तिगत था। और सुशांत सिंह राजपूत का गुजरना जो मुझे शुरुआत में समझ में नहीं आया। कैसे खेला जाता है खेल? कभी-कभी, आपको वह सब कुछ नहीं मिलता जो आप निर्धारित करते हैं। हम अपनी महत्वाकांक्षाओं को प्राप्त करना चाहते हैं; कभी-कभी हम जीत जाते हैं, लेकिन ज्यादातर बार हम हार जाते हैं। हारना ठीक है। इस पेशे में बहुत अधिक अनिश्चितता है।

बता दें कि गुलशन ने अपना करिय अनुरात कश्यप की शॉर्ट फिल्म डेट गर्ल इन यलो बूट्स से शुरू किया था। साल 2011 की फिल्म दम मारो दम में अभिषेक बच्चन और बिपाशा बसु के साथ नजर आए थे। उसी साल उनकी बेजोय नाम्बियर की फिल्म शैतान रिलीज हुई थी। साल 2012 में वह थ्रिलर फिल्म हेट स्टोरी में नज़र आए। यह उनका फर्स्ट लीड रोल था। वे संजय लीला भंसाली की राम लीला में भवानी के किरदार में खूब पसंद किए गए थे।

इतना ही नहीं साल 2015 में वह एडल्ट कॉमेडी हन्टर में राधिका आप्टे के साथ दिखे। साल 2016 में विवेक अग्निहोत्री की जुनूनियत में एनआरआई के रोल में दिखाई दिए। साल 2017 में उन्होंने तीन फिल्में कैबरे, ए डेथ इन द गुंज और कैंडीफ्लिप की थी। मर्द को दर्द नहीं होता में उन्होंने डबल रोल किया था। वह कमांडो 3 का भी हिस्सा रहे। इस साल अमेजन प्राइम की ड्रामा सीरीज अफरोज और नेटफ्लिक्स की घोस्ट स्टोरीज में दिखे।

Have your say